Saturday, July 13, 2024
HomeHealth TipsProstate Cancer के खिलाफ सुरक्षा कवच है यह सस्ती सब्जी 

Prostate Cancer के खिलाफ सुरक्षा कवच है यह सस्ती सब्जी 

वैज्ञानिकों के मुताबिक एक निश्चित आहार के साथ रहते हुए कुछ बीमारियां, यहां तक की कैंसर की चपेट में आने के जोखिम को भी कम किया जा सकता है। 

Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now

क्वेरसेटिन (Quercetin) से भरपूर होती है यह अद्भुत सब्जी

Ways to prevent prostate cancer : प्रोस्टेट कैंसर से बचाव (Prostate cancer prevention) में आहार और जीवनशैली  (Diet and lifestyle) एक बेहतर विकल्प साबित हो सकती है। इन दो विकल्पों की मदद से काफी हदतक कैंसर जैसे खतरे को कम किया जा सकता है।
प्रोस्टेट कैंसर की रोकथाम (Prostate Cancer Prevention) की दिशा में प्रयत्नशील वैज्ञानिकों द्वारा किए गए कई शोध और अध्ययनों में कैंसर के जोखिम को प्रभावित करने वाले कारकों (Factors affecting cancer risk) में आहार और जीवनशैली की उपयोगिता काफी हदतक सिद्ध हो गई है। वैज्ञानिकों के मुताबिक एक निश्चित आहार के साथ रहते हुए कुछ बीमारियां, यहां तक की कैंसर की चपेट में आने के जोखिम को भी कम किया जा सकता है।

प्रोस्टेट कैंसर (Prostate Cancer) के खिलाफ महत्वपूर्ण अस्त्र है प्याज

वै​ज्ञानिकों के मुताबिक, प्रोस्टेट कैंसर या अन्य तरह के कैंसरों से सुरक्षा प्रदान करने में प्याज (anti cancer vegetables) जैसी सस्ती सब्जी में क्षमता है, जो आमतौर पर हर परिवार की रसोई में सुलभ है। जमीन के अंदर पैदा होने वाली यह सब्जी कैंसर और सूजनरोधी गुणों से भरपूर (Vegetable rich in anti-cancer and anti-inflammatory properties) है। इसका नियमित सेवन कैंसर जैसी बीमारियों से सुरक्षा कवच (Regular consumption of onion protects against cancer) प्रदान कर सकता है।

कैंसर से ऐसे लड़ सकता है प्याज | Onion can fight cancer

Prostate Cancer के खिलाफ सुरक्षा कवच है यह सस्ती सब्जी
Prostate Cancer के खिलाफ सुरक्षा कवच है यह सस्ती सब्जी | Photo : Canva
शोधकर्ताओं के मुताबिक, नियमित रूप से प्याज खाना फायदेमंद हो सकता है क्योंकि इसमें क्वेरसेटिन प्रचुर मात्रा में पाई जाती है। यह एक फ्लेवोनोइड है, जो कैंसर (Prostate Cancer) और हृदय रोग के जोखिम को कम करता है (Flavonoids reduce the risk of cancer and heart disease)। विशेषज्ञों के मुताबिक प्याज से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए नियमित रूप से इसका सेवन करना जरूरी है। हालांकि, इस मामले में प्याज खाने का तरीका और इसके प्रकार का चुनाव भी एक महत्वपूर्ण विषय है।
शोधकर्ताओं के मुताबिक, प्याज क्वेरसेटिन नामक घटक के माध्यम से एंटीऑक्सीडेंट और सूजन रोधी लाभ (Onions provide antioxidant and anti-inflammatory benefits through a component called quercetin) प्रदान करता है। जो शरीर से हानिकारक रसायनों और मुक्त कणों को बाहर निकालने में सहायता करता है। मुक्त कण कोशिका झिल्ली को नुकसान पहुंचा सकते हैं।
इससे कोशिकाएं नष्ट हो सकती है। जिससे डीएनएन में भी समस्या पैदा हो सकती है। भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट प्राप्त कर सूजन को कम किया जा सकता है। वहीं, इससे रक्त शर्करा को भी नियंत्रित करने में मदद मिलती है। ऐसा करके कैंसर कोशिकाओं (Prostate Cancer) को नष्ट करने में आप अपने शरीर की मदद कर सकते हैं। वहीं हृदय रोग की चपेट में आने से भी बच सकते हैं।

इस तरह फायदेमंद है क्वेरसेटिन | Quercetin Benefits 

फ्रंटियर्स इन इम्यूनोलॉजी (Frontiers in Immunology) में वर्ष 2023 में प्रकाशित एक अध्ययन के हवाले से यह दावा किया गया है कि क्वेरसेटिन प्रोस्टेट (Prostate Cancer), फेफडे और रक्त कैंसर के जोखिम को कम करने में सक्षम है (Quercetin is able to reduce the risk of prostate, lung and blood cancer)। जिनको कैंसर हो चुका है, उन्हें इससे लडने में क्वेरसेटिन मदद कर सकता है। यह कैंसर की प्रगति को रोक सकता है।
फ्रंटियर्स इन कार्डियोवस्कुलर मेडिसिन (Frontiers in Cardiovascular Medicine) में प्रकाशित किए गए एक अन्य अध्ययन में हृदय रोग के मामले में क्वेरसेटिन के लाभ (Benefits of Quercetin in case of heart disease) के बारे में प्रमुखता से उल्लेख किया गया है। वैज्ञानिकों के मुताबिक इस घटक में औषधीय गुण मौजूद होते हैं, जो हृदय रोग से लडते हैं।
यह मायोकार्डियल फाइब्रोसिस (myocardial fibrosis) को कम करने, वेंट्रिकुलर रीमॉडलिंग में सुधार करने (to improve ventricular remodeling), एंटिऑ​क्सीडेशन की प्रक्रिया में सुधार करने (To improve the process of antioxidation),  हृदय विफलता (heart failure), अतालता (arrhythmia) और एंटीप्लेटलेट (antiplatelet) में काफी मदद करता है। यह घटक कोलेस्ट्रॉल और रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी भूमिका निभा सकता है।

स्वास्थ्य के लिहाज से प्याज की कौन सी किस्म बेहतर? Which variety of onion is better for health?

विशेषज्ञों के मुताबिक, लाल प्याज (Red onion) सफेद या पीले प्याज की तुलना में अधिक गुणकारी है। लाल प्याज में क्वेरसेटिन की मात्रा अधिक (Red onion has high amount of quercetin) होती है। इस सब्जी को पकाने से इसमें मौजूद फ्लेवोनोइड का स्तर (Flavonoid levels) कम हो सकता है। ऐसे में इसका अधिकत लाभ प्राप्त करने के लिए इसे  कच्चा ही खाना चाहिए।

क्वेरसेटिन युक्त अन्य खाद्य पदार्थ | Foods containing quercetin

  • चाय (Tea)
  • सेब (Apple)
  • खट्टे फल (citrus fruits)
  • अजमोद (parsley)
  • रेड वाइन (Red Wine)

नोट: यह लेख मेडिकल रिपोर्टस से एकत्रित जानकारियों के आधार पर तैयार किया गया है।

अस्वीकरण: caasindia.in में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टर, विशेषज्ञों व अकादमिक संस्थानों से बातचीत के आधार पर तैयार किए जाते हैं। लेख में उल्लेखित तथ्यों व सूचनाओं को caasindia.in के पेशेवर पत्रकारों द्वारा जांचा व परखा गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी तरह के निर्देशों का पालन किया गया है। संबंधित लेख पाठक की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। caasindia.in लेख में प्रदत्त जानकारी व सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है और न ही जिम्मेदारी लेता है। उपरोक्त लेख में उल्लेखित संबंधित बीमारी/विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

 

caasindia.in सामुदायिक स्वास्थ्य को समर्पित हेल्थ न्यूज की वेबसाइट

Read : Latest Health News|Breaking News|Autoimmune Disease News|Latest Research | on https://www.caasindia.in|caas india is a multilingual website. You can read news in your preferred language. Change of language is available at Main Menu Bar (At top of website).
Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindi
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindihttps://caasindia.in
Welcome to caasindia.in, your go-to destination for the latest ankylosing spondylitis news in hindi, other health news, articles, health tips, lifestyle tips and lateset research in the health sector.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Article