Tuesday, April 16, 2024
HomeHealth TipsMadar Leaves : जोड़ों के दर्द (Joint Pain) की अनोखी दवा है...

Madar Leaves : जोड़ों के दर्द (Joint Pain) की अनोखी दवा है इस पवित्र पौधे की पत्तियां

हम यहां एक ऐसे पौधे के औषधीय गुणों (Medicinal properties of madar plant) के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे भारत में पवित्र पौधों (holy plant in india) में से एक माना जाता है।

Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now

औषधीय गुणों (medicinal properties) से भरपूर है मदार का पौधा (Madar Plant)

Madar Leaves Benefits in Hindi : हमें कई ऐसे औषधीय पेड (Calotropis gigantea) और पौधों (medicinal uses of madar leaves and plants) की जानकारी नहीं होती है, जो कई बीमारियों में अचूक औषधी (perfect medicine for diseases) की तरह काम आते हैं।
हम यहां एक ऐसे पौधे के औषधीय गुणों (Medicinal properties of madar plant) के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे भारत में पवित्र पौधों (holy plant in india) में से एक माना जाता है। इसे आम बोलचाल की भाषा में आक (aak plant) भी कहा जाता है।

मदार की पत्तियों के फायदे | Benefits of madar leaves

मदार (Madar), अर्क (Ark) या अकोवा (Akova) के नाम से पहचाने जाने वाली इस औषधीय पौधे को सूजन की वजह से होने वाले जोडों के दर्द (joint pain caused by inflammation), स्किन एलर्जी या खुजली की समस्या (Skin allergy or itching problem) में बेहत प्रभावी माना जाता है। खास बात यह है कि इसे जानवर नहीं खाते हैं और बंजर भूमि में भी आसानी से सर्वाइव कर लेता है।
जोडों के दर्द (Joint Pain) की अनोखी दवा है इस पवित्र पौधे की पत्तियां
जोडों के दर्द (Joint Pain) की अनोखी दवा है इस पवित्र पौधे की पत्तियां | Photo : Canva
जिसके कारण अगर इसे लगाया भी जाए तो इसे सुरक्षित रखना संभव होता है। इसके फल से गर्म तासीर की कोमल चिकनी रुई भी निकलती है। इसमें दूध भी भरा होता है लेकिन यह अत्यंत विषैला होता है। इसकी फूल-पत्तियों (Madar Leaves) के इस्तेमाल से कई बडी बीमारियों (Treatment of many major diseases with the use of flowers and leaves) को भी दूर करने के दावे किए जाते हैं।
मदार का पत्ता भी बेहद जहरीला (Madar leaf is very poisonous) होता है। आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के मुताबिक, मदार का पत्ता पैरालिसिस (Paralysis), बवासीर (piles), शरीर में दर्द (body pain), सूजन (Swelling), त्वचा संबंधित कई बीमारियों (skin related diseases) में राहत दिलाता है।

मदार के पौधे का औषधीय प्रयोग | Medicinal use of madar plant

आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के मुताबिक, मदार का उपयोग (use of madar) पारंपरिक चिकित्सा में कई तरह की बीमारियों के लिए किया जाता है। शरीर में कहीं भी दर्द होने पर मदार के पत्ते को गर्म कर सूती कपड़े से उसी जगह पर बांध दिया जाए तो इससे शीघ्र राहत मिलती है।
इसके अलावा बवासीर, मधुमेह, लकवा के मरीजों के उपचार में भी इसकी पत्ती बेहद प्रभावी (Madar leaves are very effective in the treatment of piles, diabetes and paralysis patients.) साबित होती है। इसका उपयोग अलग-अलग तरीके से किया जा सकता है। दर्द और जोड़ों में सूजन के लिए इसकी पत्तियों को बांधा जाता है। वहीं, खांसी और दमा के मरीजों को इसके रस का सेवन करने के लिए दिया जाता है। त्वचा रोग की समस्या से पीडित मरीजों को इसका लेप लगाया जाता है।

बिना वैद्य या चिकित्सक के परामर्श के न करें इस्तेमाल

मदार की फूल-पत्तियों और इससे निकले वाला दूध (madar flowers and leaves and the milk derived from it) बेहद विषैला होता है। इसका दूध अगर गलती से आंख में चला जाए तो स्थाई रूप से अंधापन भी हो सकता है। ऐसे में यह जरूरी है कि इसका इस्तेमाल किसी विशेषज्ञ वैद्य या चिकित्सक की निगरानी या उनके परामर्श से ही किया जाए।
इसके इस्तेमाल में लापरवाही बरतने से गंभीर स्तर का नुकसान भी संभव है। इस पौधे का इस्तेमाल अपने आप न करें। इस पौधे का औषधीय प्रयोग या इससे बने खुराक को लेने से पहले किसी आयुर्वेद या प्रकृति उपचार विशेषज्ञ से परामर्श जरूर कर लें। ऐसा करने से आप होने वाले किसी नुकसान से सुरक्षित रह सकते हैं।

नोट: यह लेख मेडिकल रिपोर्टस से एकत्रित जानकारियों के आधार पर तैयार किया गया है।

अस्वीकरण: caasindia.in में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टर, विशेषज्ञों व अकादमिक संस्थानों से बातचीत के आधार पर तैयार किए जाते हैं। लेख में उल्लेखित तथ्यों व सूचनाओं को caasindia.in के पेशेवर पत्रकारों द्वारा जांचा व परखा गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी तरह के निर्देशों का पालन किया गया है। संबंधित लेख पाठक की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। caasindia.in लेख में प्रदत्त जानकारी व सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है और न ही जिम्मेदारी लेता है। उपरोक्त लेख में उल्लेखित संबंधित बीमारी/विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

 

caasindia.in सामुदायिक स्वास्थ्य को समर्पित हेल्थ न्यूज की वेबसाइट

Read : Latest Health News|Breaking News|Autoimmune Disease News|Latest Research | on https://www.caasindia.in|caas india is a multilingual website. You can read news in your preferred language. Change of language is available at Main Menu Bar (At top of website).
Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindi
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindihttps://caasindia.in
Welcome to caasindia.in, your go-to destination for the latest ankylosing spondylitis news in hindi, other health news, articles, health tips, lifestyle tips and lateset research in the health sector.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Article