Tuesday, May 21, 2024
HomeAnkylosing SpondylitisAnkylosing Spondylitis वाले पहने किस तरह के जूते, यहां मिलेगा सही जवाब

Ankylosing Spondylitis वाले पहने किस तरह के जूते, यहां मिलेगा सही जवाब

Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now

जूते-चप्पलों का गलत चयन बढा सकती है Ankylosing Spondylitis से जुडी समस्या

एकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस (Ankylosing Spondylitis) के मरीजों के लिए पेन मैनेजमेंट के अलावा भी बहुत कुछ समझने की जरूरत है। बहुत कम लोगों को यह मालूम होगा कि जूते और चप्पलों का गलत चयन भी आपके जोडों के दर्द (Joint Pain) को बढा सकता है।

ऐसे में सवाल यह उठाता है कि एएस के मरीज किस तरह के जूते और चप्पलों का उपयोग करें, जिससे उनके जोडों पर अत्यधिक दबाव न पडे। यहां आपको बता दें कि एएस मरीजों में पीठ दर्द के अलावा कूल्हों, टांगों और पैरों सहित शरीर के अन्य क्षेत्रों में भी दर्द पैदा हो सकती है।

दिल्ली के स्वामी दयानंद अस्पताल के वरिष्ठ ऑर्थोपेडिक सर्जन डॉ. गौरव शर्मा के मुताबिक एकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस (Ankylosing Spondylitis)  के अधिक गंभीर मामलों में पैर और एड़ी में दर्द हो सकता है। यह एक गंभीर अर्थराइटिस (Arthritis) के लक्षण हैं। मरीजों को चलते समय ऐसा लगता है कि वह हर कदम खंजर पर चल रहे हैं। ऐसे में इन सभी तरह के दर्द का सामना करते हुए यह जरूरी हो जाता है कि आाखिर आप किस तरह के जूते और चप्पलों का चयन करें।

Ankylosing Spondylitis के मामले में क्यों मायना रखता है जूते का चयन?

एंकिलोज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस वाले पहने किस तरह के जूते, यहां मिलेगा सही जवाब
एंकिलोज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस वाले पहने किस तरह के जूते, यहां मिलेगा सही जवाब| Photo : freepik

डॉ. गौरव के मुताबिक, एकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस (Ankylosing Spondylitis) वाले लोगों के पैरों में कई तरह की सामान्य समस्याएं हो सकती है। इनमें प्लांटर फैसीसाइटिस (plantar fasciitis) और एच्लीस टेंडिनाइटिस (Achilles tendinitis) शामिल हैं। एकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस के लिए सर्वोत्तम जूते चुनते के पीछे एकमात्र उद्देश्य होता है, पैरों के दर्द को कम करना। यह और भी महत्वपूर्ण इसलिए भी हो जाता है कि क्योंकि पैरों में पहने हुए जूतों का प्रभाव सीधे आपकी रीढ को प्रभावित कर सकता है। जूते जो रीढ़ की हड्डी पर दबाव कम करने में मदद करते हैं, वह स्नीकर्स (sneakers) की तरह होते हैं, जिनके ऐड़ी का हिस्सा थोडा अधिक गद्देदार होता है।

जूते पहनने के दौरान झुकने की कठिनाईयों पर भी विचार करें

डॉ. गौरव के मुताबिक एएस मरीजों को जूते पहनने के लिए झुकने में होने वाली परेशानियों पर भी विचार करना जरूरी है। चूँकि एकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस (Ankylosing Spondylitis) वाले कई मरीजों को इस तरह की समस्या हो सकती है। इसलिए लोफ़र (loafer) जैसा स्लिप-ऑन (slip-on) जूता एएस मरीजों के लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है।

Also Read : Ankylosing Spondylitis Exercise : एंकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस में व्यायाम और पोस्चर कंट्रोल इसलिए है जरूरी

इसके अलावा विकल्पों में वेल्क्रो (velcro) या बकल से बंधी पट्टियों वाले जूते भी शामिल किया जा सकता है। हालांकि, कुछ लोगों को वेल्क्रो का लुक पसंद नहीं आता है। एएस मरीजों के लिए ऐसा जूता ढूंढना जरूरी है जो आपके व्यक्तित्व, जीवनशैली और संस्कृति के साथ आपकी स्थिति के मुताबिक हो। ऐसे जूतों का चयन करें तो आपकी गतिशीलता (mobility) को प्रोत्साहित करें। ऐसा करना इसलिए जरूरी है कि अगर आप दर्द में हैं और चलते हैं तो यह आपके मूवमेंट को प्रभावित कर सकता है।

Ankylosing Spondylitis के लिए ऐसे करें जूतों का चयन

डॉ. गौरव शर्मा के मुताबिक, अगर कोई भी जूता आपके पैर की उंगलियों को संकुचित (shrink) करता है या दबाव पैदा करता है, तो वह जूता आपके लिए सही नहीं है। जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है, आपके पैर की उंगलियों के नरम ऊतक (soft tissue) शांत होने लगते हैं। इसलिए वह थोड़े सख्त हो जाते हैं। ऐसे में उनमें दवाब सहने क क्षमता कम होने लगती है। आपके जूते के ऐड़ी वाले हिस्से का पर्याप्त रूप से गद्देदार होना आपकी रीढ की हड्डी पर पडने वाले दवाब को कम करता है। इससे दवाबमुक्त होकर चलने की सुविधा मिलती है।

Ankylosing Spondylitis वाले करें इन जूतों का उपयोग

एंकिलोज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस वाले पहने किस तरह के जूते, यहां मिलेगा सही जवाब
एंकिलोज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस वाले पहने किस तरह के जूते, यहां मिलेगा सही जवाब| Photo : freepik

स्नीकर्स

एंकिलोज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस वाले कई लोगों के लिए ऐसा जूता सभी अच्छे विकल्पों में से एक है। इससे ऐड़ी और आर्च सपोर्ट (arch support) बेहतर मिलती है। इनमें इंसर्ट (insert) या कस्टम ऑर्थोटिक्स (custom orthotics) के लिए भी काफी जगह होती है। ऐसे जूतों को खरीदते हुए भी यह जरूर ध्यान रखें कि इनमें अधिक कुशनिंग या सपोर्ट मौजूद हो।

लोफ़र्स

एंकिलॉज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस के मामले में लोफ़र्स भी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। स्लिप-ऑन स्टाइल (slip-on style), जैसे क्लॉग्स (clogs) और लोफर्स (loafers), स्नीकर्स (sneakers) की तुलना में पहनना और उतारना आसान होता है। आप बंद पीठ वाले स्नीकर्स (closed back sneakers) भी खरीद सकते हैं। इससे ठोकर खाने या फिसलने के जोखिम को कम करने और ऐडी को सर्पोट का विकल्प मिल जाएगा। एंकिलोज़िंग स्पॉन्डिलाइटिस के मरीजों के लिए गिरने से बचना बेहद जरूरी है क्योंकि जरा सी चोट से भी हड्डियों के फ्रैक्चर का खतरा बना रहता है। इसमें विशेष तौर से गर्दन के फ्रैक्चर का जोखिम अधिक रहता है।

सैंडल

एंकिलोजिंग स्पॉन्डिलाइटिस मरीजों के लिए फ्लिप-फ्लॉप (flip flop) एक खराब विकल्प है क्योंकि इसमें स्थिरता की कमी होती है लेकिन दूसरे प्रकार के सैंडल जिसमें सपोर्ट की पर्याप्त व्यवस्था हो, उपयोग किया जा सकता है। आप एक ऐसा सैंडल चुनें जो पैरों में अच्छी तरह से आए और टखने पर पट्टे की तरह बांधने का विकल्प मौजूद हो। यहां भी ऐडी वाले हिस्से में अधिक कुशनिंग को महत्व दिया जाना चाहिए।

Also Read : Psoriasis : सोरायसिस के पीछे तनाव प्रमुख वजह, सर्दियों में बिगड सकते हैं लक्षण : एम्स विशेषज्ञ

बेहतर जूते के लिए अपने डॉक्टर से जरूर करें चर्चा

यदि, आप अपने जूतों के चयन को लेकर संशय (Doubt) में हैं तो इसका समाधान आपको अपने डॉक्टर के पास मिल जाएगा। आपके जोडों की स्थिति और शरीर की क्षमता आपके डॉक्टर को मालूम होता है। ऐसे में आपके लिए किस तरह के जूते सही होंगे यह आपके डॉक्टर या फिजियो आपको बेहतर बता सकते हैं। आप किसी आक्यूपेशनल चिकित्सक (occupational therapist) से भी इस समस्या का समाधान प्राप्त कर सकते हैं।


नोट: यह लेख मेडिकल रिपोर्टस से एकत्रित जानकारियों के आधार पर तैयार किया गया है।

अस्वीकरण: caasindia.in में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टर, विशेषज्ञों व अकादमिक संस्थानों से बातचीत के आधार पर तैयार किए जाते हैं। लेख में उल्लेखित तथ्यों व सूचनाओं को caasindia.in के पेशेवर पत्रकारों द्वारा जांचा व परखा गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी तरह के निर्देशों का पालन किया गया है। संबंधित लेख पाठक की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। caasindia.in लेख में प्रदत्त जानकारी व सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है और न ही जिम्मेदारी लेता है। उपरोक्त लेख में उल्लेखित संबंधित बीमारी/विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

 

caasindia.in सामुदायिक स्वास्थ्य को समर्पित हेल्थ न्यूज की वेबसाइट

Read : Latest Health News|Breaking News|Autoimmune Disease News|Latest Research | on https://www.caasindia.in|caas india is a multilingual website. You can read news in your preferred language. Change of language is available at Main Menu Bar (At top of website).
Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindi
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindihttps://caasindia.in
Welcome to caasindia.in, your go-to destination for the latest ankylosing spondylitis news in hindi, other health news, articles, health tips, lifestyle tips and lateset research in the health sector.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Article