Saturday, July 13, 2024
HomeSpecialकाम की बात : Health Insurance और Mediclaim में क्या है अंतर 

काम की बात : Health Insurance और Mediclaim में क्या है अंतर 

मेडिक्लेम एक ऐसी हेल्थ पॉलिसी (health policy) है, जो किसी भी इमरजेंसी की स्थिति में स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च को उठाती है। इसमें बीमा कंपनी दुर्घटना या बीमारी होने पर अस्पताल भर्ती में होने वाले इन पेशेंट कवर (patient cover), डे केयर उपचार (day care treatment) आदि का खर्च वहन किया जाता है।

Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now

ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं है दोनों के बीच का अंतर

Health Insurance vs Mediclaim : हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिक्लेम के बीच का अंतर (Difference between health insurance and mediclaim) ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं है। अधिकतर लोग इसे एक जैसा ही समझते हैं। जबकि, दोनों के बीच काफी फर्क होता है।
आपको समस्या तब आती है जब आप अपने सभी खर्चे का बिल लेकर क्लेम करते हैं लेकिन पूरा पैसा मिलता नहीं है। यहां आपको पता चलता है कि आपने तो मेडिक्लेम  खरीदा था। जिसके तहत अस्पताल में भर्ती के दौरान ही होने वाले खर्च ही वापस मिलेगा। ऐसे में दोनों के बीच का अंतर जानना जरूरी है। इससे आपको पॉ​लिसी लेते वक्त कंफ्यूजन से बचेंगे और आपको किसी तरह की परेशानी भी नहीं होगी।

क्या है मेडिक्लेम? | What is mediclaim?

मेडिक्लेम एक ऐसी हेल्थ पॉलिसी (health policy) है, जो किसी भी इमरजेंसी की स्थिति में स्वास्थ्य पर होने वाले खर्च को उठाती है। इसमें बीमा कंपनी दुर्घटना या बीमारी होने पर अस्पताल भर्ती में होने वाले इन पेशेंट कवर (patient cover), डे केयर उपचार (day care treatment) आदि का खर्च वहन किया जाता है।
इसमें हॉस्पिटलाइज़ेशन के दौरान किसी भी बीमारी के इलाज (Treatment of any disease during hospitalization) पर होने वाले खर्चों के साथ आपके हॉस्पिटलाइज़ेशन के खर्चों (Hospitalization expenses) को कवर किया जाता है। अगर आपके पास मेडिक्लेम है, तो आप खर्चों के भुगतान के लिए बीमा कंपनी (Insurance company) के पास अपने बिल को जमा करा सकते हैं। मेडिक्लेम पॉलिसी में आप कैशलेस के विकल्प (Cashless options) को भी चुन सकते हैं।

क्या है हेल्थ इंश्योरेंस ? | What is health insurance?

हेल्थ इंश्योरेंस में मेडिकल और सर्जिकल दोनों तरह के खर्च कवर किए जाते हैं (Medical and surgical expenses covered)। इसमें कैशलैस उपचार की भी सुविधा (Facility of cashless treatment) मिल जाती है। बीमार होने के बाद अस्पताल में भर्ती होने और दवाइयों पर होने वाले खर्च (Expenses incurred on hospitalization and medicines after falling ill.) के लिए आपको अपनी जेब से पैसे खर्च नहीं करने पडते हैं।
इसका पूरा खर्च आपके पॉलिसी के मुताबिक बीमा कंपनी वहन करती है। इस पॉलिसी के तहत बीमा कंपनी अपने पॉलिसी होल्डर्स को यह गारंटी देती है कि वह उनके बीमार होने (to be sick), दुर्घटना होने (having an accident) या अस्पताल में एडमिट होने पर उपचार (Treatment upon admission to hospital) में आने वाली भारी-भरकम खर्च को वहन करेगी।

मेडिक्लेम और हेल्थ इंश्योरेंस के बीच क्या अंतर है ?  | Difference between mediclaim and health insurance

हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिक्लेम के बीच का अंतर
हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिक्लेम के बीच का अंतर | Photo : freepik

अस्पताल में भर्ती होने से पहले और बाद का खर्च

मेडिक्लेम पॉलिसी अस्पताल में भर्ती होने तक सभी खर्च को को सख्ती से कवर करती है। इस पॉलिसी के तहत किसी ​विशेष बीमारी का इलाज एक लिमिट तक ही कवर किया जाता है। वहीं हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी (health policy) में लगभग सभी बीमारियों के उपचार का खर्च वहन किया जाता है।
इसमें अस्पताल में भर्ती होने से पहले से लेकर उसके बाद कई दिनों तक होने वाले खर्च का भुगतान बीमा कंपनी करती है। हेल्थ इंश्योरेंस के तहत डायग्नोसिस (diagnosis), डॉक्टर कंसलटेशन फीस (doctor consultation fees) जैसे खर्चों का भुगतान किया जाता है। जबकि, मेडिक्लेम में इस तरह के अन्य खर्चों को कवर नहीं किया जाता है।

 बीमारी के लिए ऐड ऑन या कवर | Add on or cover for illness

मेडिकल इंश्योरेंस (medical insurance) के तहत पॉलिसी होल्डर्स को अपनी जरूरत के हिसाब से किसी खास बीमारी के लिए अलग से ऐड ऑन या कवर जुड़वाने की सुविधा (Add on or cover facility) मिलती है। जैसे किसी गंभीर बीमारी के लिए (for serious illness), प्रेग्नेंसी के लिए (for pregnancy), कैंसर के लिए  (for cancer) आप ऐड ऑन करा सकते हैं। जबकि, मेडिक्लेम के तहत आप इस तरह के ऐड ऑन नहीं करवा सकते हैं।

 इंश्योरेंस लिमिट | Insurance limit

मेडिक्लेम में हॉस्पिटलाइज़ेशन का खर्चा (Hospitalization expenses) 5 लाख से ज्यादा नहीं हो सकता है। इसमें उपचार का खर्च भी सीमित होता है। जबकि हेल्थ इंश्योरेंस का कवर उम्र, जगह और घर के सदस्यों की संख्या पर निर्भर करता है।

 प्रीमियम | Premium

अगर आप कम प्रीमियम या कम समय के लिए हेल्थ प्लान (short term health plan) लेना चाहते हैं या फिर इमरजेंसी की सूरत में आपको हेल्थ प्लान की आवश्यकता महसूस हो रही है तो मेडिक्लेम बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। दूसरी तरफ हेल्थ इंश्योरेंस में आपको अधिक प्रिमियम देना होगा लेकिन इसमें मेडिक्लेम से अधिक सुविधाएं भी मिलती है।

आशा करते हैं कि हेल्थ इंश्योरेंस और मेडिक्लेम के बीच का अंतर अब आप समझ गए होंगे। अगर आपके मन में इससे संबंधित कोई प्रश्न है तो आप हमें कमेंट कर बताएं। अगर आप किसी खास विषय पर जानकारी चाहते हैं तो इसके लिए भी आप हमें कमेंट करके बता सकते हैं। हम आपके बताए गए विषय पर जानकारी से पूर्ण ऑर्टिकल पब्लिश करेंगे।


नोट: यह लेख मेडिकल रिपोर्टस से एकत्रित जानकारियों के आधार पर तैयार किया गया है।

अस्वीकरण: caasindia.in में प्रकाशित सभी लेख डॉक्टर, विशेषज्ञों व अकादमिक संस्थानों से बातचीत के आधार पर तैयार किए जाते हैं। लेख में उल्लेखित तथ्यों व सूचनाओं को caasindia.in के पेशेवर पत्रकारों द्वारा जांचा व परखा गया है। इस लेख को तैयार करते समय सभी तरह के निर्देशों का पालन किया गया है। संबंधित लेख पाठक की जानकारी व जागरूकता बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। caasindia.in लेख में प्रदत्त जानकारी व सूचना को लेकर किसी तरह का दावा नहीं करता है और न ही जिम्मेदारी लेता है। उपरोक्त लेख में उल्लेखित संबंधित बीमारी/विषय के बारे में अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

 

caasindia.in सामुदायिक स्वास्थ्य को समर्पित हेल्थ न्यूज की वेबसाइट

Read : Latest Health News|Breaking News|Autoimmune Disease News|Latest Research | on https://www.caasindia.in|caas india is a multilingual website. You can read news in your preferred language. Change of language is available at Main Menu Bar (At top of website).
Join Whatsapp Channel Join Now
Join Telegram Group Join Now
Follow Google News Join Now
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindi
Caas India - Ankylosing Spondylitis News in Hindihttps://caasindia.in
Welcome to caasindia.in, your go-to destination for the latest ankylosing spondylitis news in hindi, other health news, articles, health tips, lifestyle tips and lateset research in the health sector.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest Article